Connect with us

Uncategorized

गुजरात में लगातार छठी बार बनी बीजेपी की सरकार, विजय रूपानी बने सीएम और नितिन पटेल डिप्टी सीएम, ये बने मंत्री

Published

on

गांधीनगर: विजय रूपानी ने आज गांधीनगर सचिवालय मैदान में गुजरात के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। वहीं  नितिन पटेल ने भी उपमुख्यमंत्री पद की शपथ ली। शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अहमदाबाद पहुंच चुके हैं। ये भी पढ़ें- विजय रुपानी: रंगून से लेकर गुजरात के मुख्यमंत्री तक

लाइव अपडेट्स – बच्चू भाई खाबड़, जयद्रथ सिंह परमार,  ईश्वर पटेल, वसन अहीर, विभावरे दवे, रमण पाटकर, कुमार कनानी, पुरुषोत्तम सोलंकी, परबत पटेल ने मंत्री पद की शपथ ली।

– दिलीपकुमार वीरजी ठाकोर, ईश्वरभाई रमणभाई परमार और प्रदीपसिंह जडेजा ने मंत्री पद की शपथ ली।

View image on TwitterView image on TwitterView image on Twitter

Gandhinagar: Dilipkumar Viraji Thakor, Ishwarbhai Ramanbhai Parmar and Pradipsinh Jadeja take oath as ministers in Gujarat government

– सौरभ पटेल, गणपतसिंह वेस्ताभाई वसावा और जयेशभाई विठ्ठलभाई रादाडिया ने मंत्री पद की शपथ ली।

View image on TwitterView image on TwitterView image on Twitter

Gandhinagar: Saurabh Patel, Ganpatsinh Vestabhai Vasava and Jayeshbhai Vitthalbhai Radadiya take oath as ministers in Gujarat government

– आर सी फल्दू, भूपिंद्रसिंह चुडासमा और कौशिक पटेल ने मंत्री पद की शपथ ली।

View image on TwitterView image on TwitterView image on Twitter

Gandhinagar: RC Faldu, Bhupindrasinh Chudasama and Kaushik Patel take oath as ministers in Gujarat government

– नितिन पटेल लगातार दूसरी बार डिप्टी सीएम बने।

View image on TwitterView image on Twitter

Gandhinagar: Nitin Patel takes oath as deputy CM for second consecutive term

– विजय रूपानी ने गुजरात के मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ली।

– शपथग्रहण समारोह में सीनियर बीजेपी नेताओं के साथ-साथ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, छत्तीसगढ़ के सीएम रमन सिंह और राजस्थान की सीएम वसुंधरा राजे उपस्थित हैं।

 Uttar Pradesh CM Yogi Adityanath, Rajasthan CM Vasundhara Raje Scindia and Chhattisgarh CM Raman Singh at swearing-in ceremony of CM elect Vijay Rupani and others in Gandhinagar

PM Modi with former Gujarat CMs Keshubhai Patel and Shankersinh Vaghela at swearing-in ceremony of CM elect Vijay Rupani and others in Gandhinagar

 – गांधीनगर में पीएम मोदी शपथग्रहण समारोह स्थल पर पहुंचे… 

View image on TwitterView image on Twitter

Gandhinagar: Prime Minister Narendra Modi arrives for swearing in ceremony of CM elect Vijay Rupani and others

– शपथ ग्रहण समारोह स्थल पर विजय रूपानी..

 – भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, पीएम मोदी और गृह मंत्री राजनाथ सिंह शपथ ग्रहण समारोह स्थल पर पहुंचे। केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद, नितिन गडकरी, रामविलास पासवान भी समारोह स्थल पर पहुंच गए हैं। 

View image on TwitterView image on Twitter

Gandhinagar: Union Ministers Ravi Shankar Prasad, Nitin Gadkari, Rajnath
Singh and Ram Vilas Paswan & BJP President Amit Shah at swearing-in ceremony of CM elect Vijay Rupani

– सीएम विजय रूपानी, डिप्टी सीएम नितिन पटेल समेत 20 मंत्री शपथ लेंगे।

20 ministers including CM Vijay Rupani and Deputy CM Nitin Patel to take oath shortly 

– अहमदाबाद एयरपोर्ट से निकलने पर लोगों ने पीएम मोदी का स्वागत किया….

View image on TwitterView image on TwitterView image on Twitter

Prime Minister Narendra Modi waves to crowd gathered on his way from the airport in Ahmedabad

  शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अहमदाबाद पहुंचे।

 

View image on TwitterView image on Twitter

Prime Minister Narendra Modi reaches ‘s Ahmedabad, to attend swearing-in ceremony of CM elect Vijay Rupani and others

 

– शपथ ग्रहण समारोह पर जाने से पहले विजय रूपानी ने गांधीनगर में पंचदेव महादेव मंदिर में पूजा अर्चना की।

View image on TwitterView image on TwitterView image on TwitterView image on Twitter

Feeling blessed after offering prayers to Panchdev Mahadev Temple in Gandhinagar. Prayed for Gujarat’s welfare.

गुजरात भाजपा अध्यक्ष जीतू वाघानी के अनुसार इस समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, भाजपा शासित राज्यों के मुख्यमंत्री और बीजेपी के सहयोगी दलों के शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों के शामिल होने की संभावना है। शपथ ग्रहण समारोह में कई केंद्रीय मंत्रियों और पार्टी के अन्य वरिष्ठ नेताओं के भी शामिल होने की उम्मीद है। वाघानी ने कहा, ‘हमने आशीर्वाद देने के लिए विभिन्न धर्मों के संतों और धार्मिक नेताओं को भी आमंत्रित किया है।’

भाजपा नेताओं ने शनिवार को राज्यपाल ओपी कोहली से मुलाकात की और सरकार बनाने के लिए दावा किया था। शुक्रवार को भाजपा केंद्रीय पर्यवेक्षक टीम ने गुजरात में मुख्यमंत्री पद पर संदेह खत्म करते हुए विजय रूपानी को राज्य का अगला मुख्यमंत्री और साथ ही नितिन पटेल को उपमुख्यमंत्री चुना था। नवनियुक्त विधायकों की बैठक में वित्त मंत्री अरुण जेटली की अध्यक्षता में हुई बैठक के बाद बीजेपी ने शुक्रवार को इसकी घोषणा की।

 

आनंदीबेन पटेल के मुख्यमंत्री के पद से हटने के बाद रूपानी को 7 अगस्त 2016 को गुजरात का मुख्यमंत्री बनाया गया था। रूपाणी का चयन 2019 लोकसभा चुनाव को देखते हुए किया गया है जो कि केवल 18 महीने दूर है। पार्टी किसी नए चेहरे को लाकर मौजूदा कार्य व विकास में अवरोध पैदा करने का जोखिम नहीं लेना चाहती। पार्टी के अंदरूनी सूत्रों ने बताया कि राज्य के 17 वें मुख्यमंत्री के तौर पर पार्टी के पास अन्य चेहरे भी थे जिसमें गुजरात का प्रतिनिधित्व कर रहे केंद्रीय मंत्री भी शामिल थे। लेकिन इन सबों पर लोकसभा चुनाव को देखते हुए ध्यान नहीं दिया गया। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के करीबी माने जाने वाले रूपाणी दूसरी बार राज्य के मुख्यमंत्री चुने गए हैं। भाजपा ने विधानसभा की 182 में से 99 सीटों पर जीत दर्ज की है।

 

रूपाणी का जन्म 2 अगस्त 1956 को रंगून (अब म्यांमार) में हुआ था। उन्होंने 1987 में राजकोट का मेयर बन सक्रिय राजनीति में प्रवेश किया। वह जनसंघ, राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ और भाजपा के साथ इसके उद्भव के समय से जुड़े रहे। जेपी आंदोलन में उन्होंने सौराष्ट्र अभियान का नेतृत्व किया और आपातकाल के दौरान जेल भी गए।

विजय रूपानी से जुड़ी और भी खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Follow me in social media
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Uncategorized

कमल हासन की राजनीतिक पारी की शुरुआत से पहले हुई ये घटना, कहीं अपशकुन तो नहीं?

Published

on

मदुरै: अभिनेता कमल हासन की पार्टी के गठन के आयोजन स्थल पर बुधवार को वहां लगाई गई बड़ी सी एलईडी स्क्रीन तेज हवाओं के कारण गिर गई। पुलिस ने बताया कि घटना में कोई घायल नहीं हुआ। हासन के अपने राजनीतिक दल के नाम और झंडे के आगाज के पहले यह घटना हुई। जिले के ओटाकडाई में आयोजन स्थल पर पर्याप्त इंतजाम किए गए हैं। इस दौरान भारी संख्या में लोगों के आने की उम्मीद है। दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के सुप्रीमो अरविंद केजरीवाल भी आयोजन में हिस्सा लेने वाले हैं।

प्रसिद्ध अभिनेता कमल हासन आज अपनी पार्टी लॉन्च करने जा रहे हैं। इस सिलसिले में बुधवार को वह रामेश्‍वरम में पूर्व राष्‍ट्रपति दिवंगत एपीजे अब्‍दुल कलाम के घर गए। वह रामेश्‍वरम में उस स्‍कूल भी जाने वाले थे, जहां से कलाम ने पढ़ाई की थी, लेकिन यह दौरा किन्‍हीं कारणों से रद्द कर दिया गया। हासन मंगलवार शाम रामेश्‍वरम पहुंचे थे, जहां समर्थकों ने उनका जोरदार स्वागत किया था। दक्षिणी तमिलनाडु के रामनाथपुरम जिले में हासन जब अपने पैतृक गांव पहुंचे तो जोश और उत्‍साह से भरे समर्थकों ने उन्‍हें ‘भावी मुख्‍यमंत्री’ करार देते हुए नारेबाजी की।

हासन ने रामेश्‍वरम में पूर्व राष्‍ट्रपति दिवंगत एपीजे अब्‍दुल कलाम के भाई से मुलाकात की। इसके बाद वह यहां मछुआरों को संबोधित करने वाले हैं। वह यहां कलाम मेमोरियल भी जाएंगे। बाद में हासन मदुरै के लिए रवाना होंगे और रामनाथपुरम, मनामदुरै तथा अपने गृह नगर परमाकुडी में जनसभा को संबोधित करेंगे। पिछले महीने अपने राजनीतिक टूर की घोषणा करते हुए अभिनेता ने कहा था कि उनके विचार एक ‘बेहतर तमिलनाडु’ को लेकर कलाम के सपनों से मेल खाते हैं।

हासन ने मंगलवार को एक ट्वीट कर कहा था कि वह अपनी पार्टी लॉन्‍च करने जा रहे हैं और एक नए युग की शुरुआत के लिए होने वाले इस कार्यक्रम में शामिल होने वालों का वह स्‍वागत करते हैं। उन्‍होंने कहा था, ‘मैं अपनी नई पार्टी और इसकी नीतियों के बारे में बताने जा रहा हूं। आइये और नए युग के निर्माण में शामिल होइये। शाम 6 बजे मदुरै में ओठाकडई ग्राउंड पर पार्टी का झंडा फहराया जाएगा।’

हासन के पार्टी लॉन्‍च कार्यक्रम में दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी शामिल होने वाले हैं। सूत्रों के अनुसार, इस दौरान वह जनसभा को संबोधित भी करेंगे। केजरीवाल ने सितंबर 2017 में हासन से चेन्‍नई में मुलाकात की थी। उस वक्‍त उन्‍होंने कहा था कि आज जबकि देश में भ्रष्‍टाचार और सांप्रदायिकता का बोलबाला बढ़ रहा है, समान सोच वाले लोगों को एक-दूसरे के साथ मिलकर काम करने की जरूरत है।

पिछले साल ही अपनी राजनीतिक पार्टी लॉन्‍च किए जाने का संकेत देने वाले हासन ने पिछले दिनों केरल के मुख्‍यमंत्री पिनरई विजयन और पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी से भी मुलाकात की थी। वह DMK अध्‍यक्ष एम करुणानिधि और अपने राजनीतिक प्रतिद्वंद्वी सुपरस्‍टार रजनीकांत से भी मिले थे।

हालांकि DMK ने मंगलवर को हासन पर निशाना साधते हुए कहा कि कागज के वे फूल जिनमें खुशबू नहीं होती, वे केवल एक मौसम में खिलते हैं, लेकिन जल्द ही मुरझा जाते हैं। पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष एम.के. स्टालिन ने कार्यकर्ताओं को लिखे पत्र में कहा है, ‘DMK एक बरगद के वृक्ष की तरह है, जिसकी मजबूत जड़ और शाखाएं हैं। इसे कोई भी हिला नहीं सकता। पार्टियां एक मौसम में पैदा हो सकती हैं, लेकिन वे केवल एक कागज के फूल की तरह हैं, जिसके पास सुगंध नहीं है। वे जल्द ही मुरझा जाएंगे।’

हासन से मंगलवार को अभिनेता सीमान ने चेन्नई में मुलाकात की थी। सीमान वही अभिनेता हैं, जिन्‍होंने तमिल राजनीति में रजनीकांत की पारी का यह कहते हुए विरोध किया कि वह तमिल मूल के नहीं हैं। सीमान ने कहा कि वह भी रामनाथपुरम जिले के निवासी हैं और कमल ने उनसे मिलने की इच्छा जताई थी, लेकिन चूंकि वह बड़े हैं, इसलिए उन्‍होंने महसूस किया कि उन्हें उनके (हासन) घर जाना चाहिए। (भाषा इनपुट के साथ)

Follow me in social media
Continue Reading

Uncategorized

दिल्ली के मुख्य सचिव अंशु प्रकाश पर हमले के मामले में AAP विधायक गिरफ्तार…

Published

on

नई दिल्ली: दिल्ली के मुख्य सचिव अंशु प्रकाश पर कुछ आम आदमी पार्टी (AAP) विधायकों के कथित हमले को लेकर नाराज नौकरशाहों ने मंगलवार को कहा कि जब तक मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल इस घटना को लेकर माफी नहीं मांगेंगे तब तक वे केजरीवाल और उनके मंत्रिमंडलीय सहयोगियों द्वारा बुलाई जाने वाली बैठकों का बहिष्कार करेंगे। इस मामले में मंगलवार रात AAP विधायक प्रकाश जरवाल को अंबेडकर नगर में उनके घर से गिरफ्तार किया गया।

मुख्यमंत्री के आवास पर दिल्ली के मुख्य सचिव के साथ कथित तौर पर मारपीट करने वाले AAP के विधायक प्रकाश जरवाल को मंगलवार रात हिरासत में ले लिया गया। पुलिस सूत्रों ने बताया कि उन्हें उनके देवली स्थित आवास से हिरासत में ले लिया गया। इस बात की संभावना है कि उन्हें बाद में गिरफ्तार कर लिया जाएगा। दिल्ली के मुख्य सचिव अंशु प्रकाश ने आरोप लगाया है कि सोमवार रात मुख्यमंत्री के आवास पर एक बैठक के दौरान AAP विधायक अमानतुल्ला खान और अन्य ने उन पर हमला किया।

प्रकाश की शिकायतों के आधार पर दिल्ली पुलिस ने खान और अन्य के खिलाफ एक एफआईआर दर्ज कर ली है। इससे पहले, देवली के विधायक जरवाल और अंबेडनगर के AAP विधायक अजय दत्त ने दावा किया कि नौकरशाह ने जातिसूचक टिप्पणियां कीं। उन्होंने उनके खिलाफ दिल्ली पुलिस तथा राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग में एक शिकायत भी दर्ज कराई है।

उधर अधिकारियों की तीन एसोसिएशनों आईएएस (इंडियन एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विस), डीएएनआईसीएस (दिल्ली अंडमान एंड निकोबार आईलैंड्स सिविल सर्विस) तथा डीएसएसएस (दिल्ली सबऑर्डिनेट सर्विसेज सलेक्शन बोर्ड) ने मंगलवार रात एक बैठक में एक प्रस्ताव पारित किया है। प्रस्ताव में कहा गया है कि वे आम आदमी पार्टी के मंत्रियों के साथ लिखित में संवाद बनाए रखेंगे ताकि लोक सेवा आपूर्ति में कोई व्यवधान न हो।

संभागीय आयुक्त तथा आईएएस ऑफिसर्स एसोसिएशन की महासचिव मनीषा सक्सेना ने कहा, तीनों एसोसिएशनों ने मुख्यमंत्री के आवास में मुख्य सचिव पर विधायकों के कथित हमले के विरोध में दिल्ली के सभी मंत्रियों की बैठकों का बहिष्कार करने का फैसला किया है।’ कथित घटना के विरोध में तीनों एसोसिएशनों के सदस्यों ने राजघाट पर मंगलवार को मोमबत्ती जुलूस भी निकाला।

 

इस बीच केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने दिल्ली के मुख्य सचिव अंशु प्रकाश पर हुए कथित हमले की निंदा की।  उन्होंने कहा, ‘मैं इस तरह के मामलों में जाना नहीं चाहता। मैं खुद 40 साल से अधिक समय तक नौकरशाह रहा हूं और मैंने (एक आईएएस अधिकारी के साथ) इस तरह का आचरण नहीं देखा।’ उन्होंने कहा, ‘मैं निजी स्तर पर बोल रहा हूं। इस तरह के आचरण की कड़े शब्दों में निंदा की जानी चाहिए।’

इस बीच दिल्ली पुलिस ने मंगलवार को मुख्य सचिव प्रकाश पर कथित हमले को लेकर उनकी शिकायत पर आप विधायक अमानतुल्ला खान तथा अन्य के खिलाफ एक प्राथमिकी दर्ज की। प्रकाश का आरोप है कि आप विधायकों ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के आवास पर उनके साथ हाथापाई की। प्रकाश के प्राथमिकी दर्ज कराने के कुछ घंटे बाद दिल्ली के मंत्री इमरान हुसैन ने आरोप लगाया कि मंगलवार सुबह जब वह दिल्ली सचिवालय में एक एलीवेटर के लिए इंतजार कर रहे थे तब कुछ सरकारी कर्मचारियों ने उनके साथ धक्कामुक्की की।

Follow me in social media
Continue Reading

Facebook

NEWSLETTER

Trending